भूमि से बेदखल का भय दिखाकर सर्वेयर करते है किसानो से नाजायज वसूली।

0
77

 चन्दन कुमार/शेखपुरा

खुद का ही भूमि का डर दिखाकर सर्वेयर किसानों से 20 हज़ार से लेकर 50 हज़ार की बसूली कर रहे है। जमीन से बेदखल होने के डर से किसान सर्वेयर को मुहमांगा रूपये दे रहे है। किसानों की माने तो आवसीय भूमि तथा सिंचाई भूमि अलग -अलग मूल्य निर्धारित है। हालांकि गांव के किसान अपनी शिकायत भी किसी से नहीं कर पाते है।
जमीन का निर्धारित है रेट ?
किसानों का कहना है की शेखोपुरसराय प्रखंड के सर्वेयर अमिन प्रसाद व मनीष कुमार किसी भूस्वामी व किसानों से बिना रूपये लेकर सर्वे का आवेदन नहीं लेते हैं। साथ ही 50 से 20 हजार रुपये की अवैध वसूली करते हैं। अगर किसान राशि देने में मजबूरी बताते हैं तो या तो उनका आवेदन नहीं लेते हैं या किसी प्रकार की जमीन में कमी का आरोप लगाकर लौटा देते हैं। यदि कोई विरोध करता है तो सर्वेयर कहता है की भूमि सर्वे में आपका नाम नहीं जुड़ेगा ,आपने गलत ढंग से भूमि ख़रीदा है और जब सर्वे में नाम नहीं आएगा तो आप खुद जमीन से बेदखल कर दिया जायेगा। जिससे किसान भयभीत होकर उसे रुपये दे देते है।
सर्वेयर कैसे बनांते है किसान को बेबकूफ ?
चूँकि जिले में भूमि सर्वे का काम चल रहा है। सर्वेयर जब भूमि सम्बंधित दस्तावेज उससे मांगता है तो उसमे कुछ प्रोब्लम बता देता है और कहता है यह जमीन गलत तरीके से रजिस्ट्री कराया गया है और आपका नाम सर्वे में नहीं जुटेगा। नाम नहीं जुटने पर उक्त जमीन से बेदखल हो जाओगे। साथ ही इसकी जानकारी जिला के अधिकारी को तब वे उक्त जमीन को कब्ज़ा में ले लेगी। किसान को भयभीत कर सर्वेयर मन मुताबिक रुपये बसुलते है।
कहते है अधिकारी ?
​प्रभारी बंदोबस्त पदाधिकारी जवाहर लाल सिन्हा ने बताया की किसी भी तरह की शिकायत नहीं मिली है ,शिकायत मिलने पर उक्त सर्वेयर के विरुद्ध करवाई की जाएगी। उन्होंने साफ़ तौर पर कहा की सर्वे के नाम किसी तरह की राशी बसुलना गलत है।