भारत में 10 अजीबोगरीब लेकिन घूमने की खूबसूरत जगहें

0
109

समुद्र में घर

गुजरात के कच्‍छ में कोटेश्‍वर एक प्रस‍िद्ध स्‍थान है। यह ह‍िंदुओं के एक तीर्थस्‍थल के रूप में भी जाना जाता है। यहां कोटेश्‍वर श‍िव मंद‍िर से समुद्र का खूबसूरत नजारा द‍ेखा जा सकता हैं। यहां जाने पर समु्द्र के बीच में बना घर जरूर द‍ेखें। इस घर को देखने के ल‍िए पयर्टक काफी क्रेजी रहते हैं।

कृष्‍णा बटरबॉल

चेन्‍नई में महाबलीपुरम में कृष्‍णा बटरबॉल है। यह बटरबॉल करीब 250 टन की एक चट्टान के रूप में एक जगह पर स्‍थ‍ित है। इस पत्‍थर को लेकर मान्‍यता है क‍ि जब भगवान कृष्‍ण मक्‍खन खा रहे थे तो यह जमीन पर आ ग‍िरा था। कृष्‍णा बटरबॉल यहां आने वाले पयर्टकों के ल‍िए आकर्षण का केंद्र है।

राम सेतु ब्रिज

रामेश्‍वरम में राम सेतु ब्रिज चूना पत्थर जैसी चीजों का एक संग्रह है। यह भारत के दक्षिण पूर्वी तट के किनारे रामेश्वरम द्वीप तथा श्रीलंका के उत्तर पश्चिमी तट पर मन्नार द्वीप को जोड़ता है। मान्‍यता है क‍ि हनुमान व उनकी वानर सेना ने राम नाम के पत्‍थर ल‍िखकर ये सेतु बनाया था।

मैग्नेटिक हिल

लद्दाख के लेह में मैग्नेटिक हिल नाम की एक पहाड़ी है। यह पहाड़ी अपनी चुंबकीय शक्‍त‍ि से बड़े से बड़े वाहनों को अपने ओर खींच लेती है। मैग्नेटिक हिल की एक और खास बात यह है क‍ि यहां गाड़ी न्यूट्रल में खड़ी करने पर जस की तस खड़ी रहेगी। पयर्टकों को यहां पर बहुत मजा आता है।

चूहों का मंद‍िर

राजस्थान के बीकानेर जिले में एक करणी माता मंद‍िर है। इसे चूहों का मंद‍िर भी कहा जाता है। यह बीकानेर से करीब 30 किलोमीटर दूर दक्षिण दिशा में देशनोक में स्थित है। इस मंद‍िर में करीब 2000 से ज्‍यादा से चूहे रहते हैं। यहां पूरे मंद‍िर में चूहे मस्‍ती से घूमते रहते हैं।

पेड़ की जड़ों का पुल

चेरापूंजी भी घूमने की एक खूबसूरत जगह है। यहां पर जीवित जड़ों का पुल बना है। इसमें पेड़ों की जड़ों को आपस में जोड़कर बनाया गया है। ये देखने में काफी खूबसूरत और रोमांचक लगता है। इस पर चलने में काफी मजा आता है। यहां पर दुनि‍या भर से पयर्टक इसे देखने आते हैं।

तैरता हुआ महल

उदयपुर में पिछौला झील में एक तैरता हुआ महल जगनिवास महल है जो देखने में काफी रोमांचक लगता है। पिछौला झील की लहरे महल की दीवारों से टकराती रहती हैं। पानी में तैरते इस महल को जलमहल के नाम से भी पुकारते है। यह विदेशी सैलानियों को बहुत आकर्षित करता है।

सांपों का घर

जीव जंतुओं के प्रत‍ि क्रेजी रहने वाले लोग महाराष्‍ट्र के सोलापुर में शेतफल गांव जा सकते हैं। शेतफल को सांपों की धरती कहा जाता है। यहां पर लोग अपने घरों में सांपों को पालते हैं। उनकी सेवा करते हैं। यहां पर सांपों की पूजा होती है। इन सांपों को देखने के ल‍िए बड़ी संख्‍या में पयर्टक आते हैं।

बरगद का पेड़

कोलकाता में जगदीश चन्द्र बोस इंडियन बोटेनिक गार्डन भी घूमने जा सकते हैं। यहां स्थित बरगद का पेड़ काफी फेमस है। यह बरगद का पेड़ अपने विशाल आकार के कारण गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो चुका है। 3,511 एरियल प्रोप जड़ों से बनी इसकी कैनोपी बड़ी सुंदर लगती है।

लोकटक झील

मणिपुर की लोकटक झील भी अजीबोगरीब जगहों में शाम‍िल हैं। यह एक अस्‍थाई झील मानी जाती है। यह हमेशा लहराती और तैरती रहती है क्‍योंक‍ि इसमें चारों ओर से कई छोटी-छोटी नदियां अपना पानी ग‍िराती है। यह भारत की सबसे बड़ी झील मानी जाती है। पयर्टक यहां खूब मस्‍ती करते हैं।