करोड़ों के अनाज घोटाले को लेकर सुर्खियों में है कैमूर, नवचेतना मंच के संयोजक ने किया मामले का भंडाफोड़।

0
103

कैमूर/मुकुल जायसवाल/
कैमूर जिले में हाल के दिनों में हुए घोटाले के परत दर परत सामने आ रहे हैं। कैमूर में बंध्याकरण घोटाला का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि करोड़ों के अनाज घोटाला का मामला सामने आ गया है। स्थिति यह है कि जिस निजी गोदाम की क्षमता 500 एमटी भी नहीं है, उसमें प्राप्ति 1500 एमटी दिखाया गया है। बताया जाता है कि जमीनी हकीकत की पड़ताल यदि प्रशासन करें तो गोदाम में 500 एमटी भी अनाज नहीं मिलेगा। यानी पूरा गोदाम खाली का खाली। कैमूर जिले में अधिप्राप्ति वर्ष 2016 – 17 में व्यापक पैमाने पर सीएमआर में धांधली की बात सामने आई है । विभागीय अधिकारी परिवहन अभिकर्ता एवं सहायक गोदाम प्रबंधकों की मिलीभगत से निजी गोदामों में व्यापक पैमाने पर रीसाइक्लिंग एवं हेराफेरी की जा रही है। जिसका ठोस सबूत नव चेतना मंच के संयोजक मिथलेश सिंह ने बिहार सरकार,प्रबंध निदेशक राज्य खाद्य निगम और डीएम कैमूर को प्रेषित किया है । सरकार को प्रेषित आवेदन में मिथलेश सिंह ने कहा है कि जमीनी हकीकत और नंगी निगाहों से पता चलता है कि फर्जी धान खरीद को छुपाने के लिए तथ्यों के साथ हेराफेरी कर लक्ष्य को पूरा किया जा रहा है ।इन गोदामों में अधिकतर परिवहन अभिकर्ता या उनके करीबी लोग शामिल है । इसके लिए राज्य सरकार को तत्काल पटना से अटैच टीम मंगवाकर वीडियोग्राफी के जरिए निजी गोदामों में रखे अनाज गबन मामले की जांच कराई जाए। शिकायतकर्ता मिथलेश सिंह ने पूरा दस्तावेज सरकार को सौंपा है। दस्तावेजों पर गौर करें तो बघिनी मोहनिया गोदाम संख्या 1 क्षमता 3500 एमटी प्राप्ति डेढ़ गुना इसी तरह बघिनी मोहनिया गोदाम संख्या 2 क्षमता 3500 एमटी प्राप्ति डेढ़ गुना भरखर मोहनिया भाग 2 में क्षमता 500 एमटी  मगर  स्टॉक 3 गुना अधिक । रामपुर प्रखंड के बसनी के गोदाम क्षमता 800 एमटी स्टाॅक डेढ़ गुना। तुलसीपुर जो रामपुर प्रखंड के गोदाम क्षमता 500 एमटी प्राप्ति दोगुना। चांद प्रखंड का केकड़ा गांव स्थित गोदाम क्षमता 500 एम टी स्टाॅक 3 गुना । केकड़ा चांद गोदाम क्षमता 1000 स्टाक डेढ़ गुना। दिवसे चांद गोदाम  400 एमटी स्टाॅक काफी अधिक । भभुआ गोदाम क्षमता 700 प्राप्ति दोगुना। सकरी ,कुदरा प्रखंड का गोदाम क्षमता 500 एमटी स्टॉक 2 गुना से अधिक। सकरी कुदरा प्रखंड का गोदाम 500 एमटी प्राप्ति ढाई गुना । फुल्ली कुदरा  गोदाम 500 एमटी प्राप्ति तीन गुना – घटाव गोदाम क्षमता 1333 प्राप्ति 2059 एमटी। जानकार बताते हैं कि जिले में कागजों पर धान की खरीद हुई और कागजों पर ही सीएमआर अनाज प्राप्ति दिखाया जा रहा है। यदि जिले के सभी गोदामों को तत्काल प्रशासन सील कर दें और उसकी जांच कराएं तो सारे मामले का भंडाफोड़ होना तय है।