आक्रोशित लोगों ने क्यों किया आंदोलन का शंख्नाद, 12 जून से आमरण अऩशन व महाधरना का होगा आयोजन।

0
148

खगड़िया/ राजेश सिन्हा
गर्मी के इस मौसम में भी बिजली रानी का समय पर दर्शन नहीं हो पाने से नाराज लोगों ने बगावत का झंडा बुलंद करना शुरु कर दिया है। खगड़िया जिले अंतर्गत गोगरी अनुमंडल के लोगों का कहना है कि ससमय बिजली बिल जमा करने के बाद भी बिजली रानी के दर्शन समय समय पर नहीं हो पाते हैं। बार_ बार विधुत व्यवस्था में सुधार लाने की गुहार के बाद भी जब विभागीय पदाधिकारियों की कुम्भकर्णी निद्रा नहीं टूटी , तब विवश होकर लोगों को आंदोलन की रणनीति तय करनी पड़ी। गोगरी प्रखंड अंतर्गत कुर्मी टोला के बड़ी पोखर स्थित गायत्री मंदिर में युवा संगठन सिमिति,खगड़िया के बैनर तले आयोजित बैठक में आक्रोशित लोगों का कहना था कि अनियमित विधुत आपूर्ति के कारण शिक्षार्थियों का पठन_ पाठन तो प्रभावित हो ही रहा है, रोजी रोजगार पर भी गंभीर संकट मंडराने लगा है। गर्मी के इस मौसम में भी प्रर्याप्त बिजली नहीं मिल पाने से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। सामाजिक कार्यकर्ता सह अन्ना मूवमेंट कार्यकर्ता अशोक पंत की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में मौजूद स्थानीय रामपुर पंचायत के सरपंच सह युवा संगठन समिति,खगड़िया के जिलाध्यक्ष नूर आलम का कहना था कि गोगरी अनुमंडल तथा आस_ पास के इलाकों में सुचारु रुप से विधुत आपूर्ति बहाल रखने के लिए गोगरी में बिजली पावर ग्रिड की स्थापना होना अनिवार्य है। राहुल जायसवाल,मिथुन रजक,परमानंद तांती,अमित कुमार सहित दर्जनों सदस्यों की मौजूदगी में संगठन की मजबूती पर बल देते हुए नूर आलम ने बिजली की समस्याओं को रेखांकित किया और कहा कि अनियमित विधुत आपूर्ति को लेकर आगामी 12 जून से गोगरी प्रखंड कार्यालय परिसर में आम आवाम के द्वारा न केवल आमरण अनशन किया जायेगा बल्कि अनशनकारियों के समर्थन में महाधरना का भी आयोजन होगा। बैठक में मौजूद अन्य कार्यकर्ताओं द्वारा पेंशन धारियों का मसला सामने लाया गया और कहा गया कि पेंशनधारियों को समय पर पेंशन नहीं मिल पाता है। नतीजतन पेंशनधारी लालायित रहते हैं। तमाम कार्यकर्ताओं के द्वारा उठाये गये मसले पर सरपंच सह संगठन अध्यक्ष नूर आलम का कहना था कि युवा संगठन समिति,
खगड़िया का गठन ही आम आवाम के हक हकूक को उठाने के बावत किया गया है। न्याय मिलने तक संगठन के द्वारा आर_ पार की लड़ाई का निर्णय ले लिया गया है। पेंशनधारियों को ससमय पेंशन नहीं मिलना गंभीर मामला है। इसलिए दो सूत्री मांगों को लेकर आगामी 12 जून से अनिश्चितकालीन आमरण अनशन किया जायेगा।