अवैध रुप से हो रहे बालू खनन के मामले का हुआ पर्दाफाश,एसडीएम के आदेश पर पांच गिरफ्तार,कांट्रेक्टर पर भी होगी कार्रवाई।

0
250

कैमूर– पूरे बिहार में जहां 30 सितंबर तक अवैध खनन पर बिहार सरकार ने पूरी तरह से रोक लगा दी है वहीं कैमूर में अवैध खनन करते हुए बालू माफियाओं को पकड़ा गया है। इतना ही नहीं अधिकारी अवैध बालू का खनन देख कर भौचक रह गए । सूत्रों की मानें तो इस जगह पर खनन का अधिकार कैमूर और रोहतास जिले के बीजेपी के एमएलसी संतोष सिंह के छोटे भाई अमित सिंह के नाम पर है।जहां सारे नियमो को ताक पर रख कर धड़ल्ले से प्रतिदिन रोक के बावजूद सरकार का धौंस दिखा कर खनन होता है। पहले बीजेपी अवैध बालू का खेल लालू से जोड़  कर देखती थी लेकिन कैमूर में अवैध बालू का खेल सता पक्ष के लोगो द्वारा ही खेला जा रहा है। अब देखना होगा कि बीजेपी एमएलसी संतोष सिंह के छोटे भाई  कांट्रेक्टर अमित सिंह के विरुद्ध पुलिस कार्रवाई करती है या छोटे प्यादों को फंसा कर कोरम पूरा कर लिया जाता है। मोहनिया एसडीएम शिव कुमार राउत ने बताया कि मैं कैमूर जिले के कुदरा थाना पर शांति समिति की बैठक में उपस्थित होने के लिए आया था। बालू लदे ट्रैक्टर को देख जब शक हुआ तो वह अवैध खनन होने वाले जगह कुदरा थाना के हरदासपुर पहुंचे । जहां बड़ी कार्रवाई करते हुए बालू लदे 15 ट्रैक्टर और अवैध खनन में संलिप्त रहे पांच युवकों को भी गिरफ्तार कर लिया गया। अधिकारियों को देखते ही लोग भागने लगे। जिसमें सभी ट्रैक्टर के चालक भागने में सफल रहे । फिर वहां संलिप्त रहे पांच आदमियों को हम लोग गिरफ्तार कर जेल भेज दिये। यह खनन का क्षेत्राधिकार कांट्रेक्टर अमित सिंह का है। इसलिये उनके खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी। क्योंकि यह खनन का अधिकृत जगह उन्हीं का है। रिपोर्ट:मुकुल जायसवाल।