फिरोजपुर, (हि.स.)। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा ट्रेनिंग कैंप में रविवार सुबह हुए आंतकी हमले के दौरान जिला फिरोजपुर के कस्बा जीरा अंर्तगत गांव लोहगढ़ ठीकरीवाला का जवान जगसीर सिंह गोली लगने से शहीद हो गया। सूचना मिलने के बाद पूरे गांव में शोक की लहर फैल गई।

शहीद के पिता अमरजीत सिंह के अनुसार उनका बेटा जगसीर सिंह 2004 में फौज में भर्ती हुआ था। उसमें शुरू से ही देश की सेवा करने की लगन थी। शहीद जगसीर सिंह अपने पीछे पिता अमरजीत सिंह, माता गुरमीत कौर, पत्नी मोहिंदरपाल कौर, दो बेटियां व एक बेटा छोड़ गया है। शहीद की पत्नी मोहिंदरपाल कौर के मुताबिक उन्हें गर्व है कि उसका पति देश के लिए शहीद हुआ है। जगसीर सिंह 22 दिसम्बर को छुट्टी से वापस ड्यूटी पर गये थे और 2 जनवरी को फिर छुट्टी पर घर आने को कहकर गये थे। गांव के लोगों के मुताबिक शहीद जगसीर सिंह का पार्थिव शरीर आज देर शाम तक पैतृक गांव पहुंचने की उम्मीद है।
AdvertisementRelated image