खगड़िया– जन अधिकार पार्टी की खगड़िया इकाई के द्वारा आज बिहार सरकार की गलत नीति एवं तुगलकी फरमान के विरोध में सड़क एवं रेल चक्का जाम किया गया। बालू , गिट्टी एवं मिट्टी को फ्री सेल करने के साथ-साथ समान शिक्षा एवं समान चिकित्सा व्यवस्था लागू,कमजोर ,गरीब एवं दलितों पर बढ़ते जुल्म और अपराध तथा पुलिसिया आतंक पर रोक लगाने की मांग की गई। इतना ही नहीं संविदा कर्मियों को नियमित एवं समान काम एवं समान वेतन की माँग को लेकर पूर्व नगर सभापति सह जाप प्रदेश महासचिव मनोहर यादव एवं जाप जिलाध्यक्ष सह नगर पार्षद दीपक चन्द्रवंशी के नेतृत्व में रेल और सड़क चक्का जाम किया गया। जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता जाम को लेकर सुबह छः बजे से ही जिला कार्यालय में जुटने लगे और सात बजे कार्यालय से ही बिहार सरकार के विरोध में नारा लगाते हुए खगड़िया स्टेशन पहुंचे और समस्तीपुर सहरसा पैसेंजर ट्रेन के इंजन पर कार्यकर्ता झंडा एवं बैनर लेकर चढ़ गए तथा ट्रेन को रोक कर बालू, गिट्टी एवं मिट्टी को फ्री सेल करो,बिहार में अपराध पर लगाम लगाओ, संविदा कर्मियों को नियमित करो,समान चिकित्सा एवं शिक्षा व्यवस्था लागू करो,दलितों और गरीब लोगों की हत्या बंद करो, पप्पू यादव जिन्दाबाद आदि का नारा लगाने लगे। रेल चक्का जाम के बाद जाप कार्यकर्ता जुलूस लेकर बलुआही एन०एच०31 पर पहुँच रोड पर बैठ गए और टायर में आग लगाकर रोड जाम कर दिया।उपस्थित कार्यकताओं को सम्बोधित करते हुए पूर्व नगर सभापति सह जाप प्रदेश महासचिव मनोहर कुमार यादव ने कहा कि बिहार सरकार सत्ता के घमंड में भूल गई है कि बिहार के आम जनता की क्या परेशानी है।बिहार सरकार तुगलकी फरमान जारी करते हुए बालू, गिट्टी एवं मिट्टी के खनन पर रोक लगा दिया है।जिससे आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है।इस व्यवसाय से जुड़े मजदूर बेरोजगार हो गए हैं और उनके परिवार के समक्ष भूखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है।मजदूर पलायन को विवश हो गए हैं।लाखों लोग बेरोजगार हो गए हैं। बिहार सरकार गरीब लोगों के साथ  अन्याय कर रही है।जहां सरकार गांवों में आवास के लिए मात्र एक लाख चालीस हजार रुपये दे रही वहीं दूसरी तरफ बालू गिट्टी एवं मिट्टी पर रोक लगा दी है।इस तरह गरीब का घर कैसे बनेगा ।बालू नौ हजार रुपए ट्रैलर भी नहीं मिल रहा है।दूसरी तरफ आवास पदाधिकारी गरीब लाभुक,जो मकान नहीं बना रहे हैं, उसके विरुद्ध मुकदमा दर्ज करा रहे हैं।ये कैसा इंसाफ है एक तरफ सरकार बालू ,गिट्टी एवं मिट्टी खनन पर रोक लगा दिया है वहीं दूसरी तरफ घर बनाने के लिए कह रही है।शिक्षा एवं चिकित्सा व्यवस्था चौपट है।प्राइवेट स्कूल एवं नर्सिंग होम संचालक लूट मचाए हुए है।सत्ता एवं विपक्ष एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप में लगे हुए हैं।मात्र एक ही नेता सांसद पप्पू यादव हैं जो गरीब ,दलित और शोषित के लिए हमेशा आवाज बुलंद कर रहे हैं एवं लड़ाई लड़ रहे हैं।मधेपुरा की महिला को पटना में एक फर्जी नर्सिंग होम संचालक द्वारा बंधक बना लिया गया था।सीतामढ़ी के शमीना ख़ातून की मृत्यु के बाद उसकी लाश को बंधक बना लिया गया था।जाप संरक्षक पप्पू यादव ने उन्हें जाकर छुड़वाया।नगर पार्षद सह जाप जिलाध्यक्ष दीपक चन्द्रवंशी ने कहा कि बिहार अपराधी और दबंगों का बोल -बाला है ।उनलोगों को सत्ताधारी नेता एवं पुलिस का संरक्षक प्राप्त है। बिहपुर के झंडापुर में दलित परिवार की महिला के साथ बलात्कार कर उसके स्तन को काट लिया गया । सत्ता और विपक्ष के  नेता चुप्पी साधे हुए हैं।बिहार में राष्ट्रपति शासन लागू किया जाय। शक्ति जिला अध्यक्ष चंदन सिंह जाट, वार्ड पार्षद चंद्रशेखर ,कृष्ण नंदन मुखिया, सुधांशु बाबू,मृत्युंजय जी ने बारी-बारी से सभा को संबोधित किया। इस प्रदर्शन में मुख्य रुप से अभय कुमार गुड्डू, शिवराज यादव, सुनील चौरसिया,शशि जी, मन्नान बादल, निलेश जी, विक्की आर्य, छात्र नेता सुमित कुमार,रोशन कुमार ,अभिषेक कुमार ,तरुण   सिंह, रिपु पांडे ,नंदन कुमार, प्रिंस कुमार, देवराज कुमार, दारा सिंह, मनीष कुमार, पिंकू तांती,   कुंदन कुमार, मुकेश कुमार इत्यादि उपस्थित थे।

AdvertisementRelated image

रिपोर्ट:गौरव सिन्हा

AdvertisementRelated image