नालंदा – नालंदा जिले के नूरसराय प्रखंड अंतर्गत अजयपुर पंचायत के मुखिया और उसके गुर्गो की शर्मशार करनेवाली दबंगई सामने आई है। मुखिया के द्वारा तालिबानी फरमान जारी करते हुए गांव के ही महेश ठाकुर को मामूली गलती पर पंचायत लगाकर ऐसी सजा दी गयी जिसे देखकर और जानकर हर कोई हैरान है। दरअसल महेश को मुखिया के घर काम से पहुचना महंगा पड़ गया। सरकारी योजना का लाभ लेने पहुचे महेश ठाकुर को मुखिया और उनके गुर्गो ने पकड़ लिया और बिना दरबाजा खटखटाये अंदर प्रवेश करने का आरोप लगाते हुए उसकी जमकर अपमानित किया। इतना ही नही घर मे हो पंचायत लगाकर कर महेश ठाकुर को थूक चटाया गया और दुबारा गलती नहीं करने का वादा लिया गया। इतना ही नहीं शख्श को महिलाओ से चप्पल से पिटवाया गया। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद अब हड़कम्प मच गया है। हालांकि फिलहाल इस मामले में कोई कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। हालांकि इस घटना ने इतना जरूर साफ कर दिया की कमजोर और मजलूमों को कभी कभी अपने ही समाज मे अपने ही लोगों से अपमानित होना पड़ता है जो यह तश्वीर इसकी बानगी भर है। अब सवाल हैकि इस वाकया की वीडियो वायरल होने के बाद क्या इस दबंग मुखिया और उसके गुर्गों के खिलाफ कोई कार्रवाई होगी। क्योंकि इस घटना क्रम से यह आन्दाजा लगाना मुश्किल नहीं कि उस इलाके में जनप्रतिनिधि की आड़ में मुखिया की दबंगई किस कदर कायम है। बहरहाल अब यह देखना भी दिलचस्प होगा कि क्या इस मामले में कोई कार्रवाई होगी या फिर आगे भी लोगों के दिलो में रहनुमा माने जानेवाले इस मुखिया पद के आड़ में लोगों को पर जुल्म होता रहेगा। सवाल उन लोगों से भी है जो पंचायत का हिस्सा बनकर इस कारनामे को रोकने के बजाय अपनी सहमति जताकर वाहवाही लूटते रहे।

AdvertisementRelated image