राजेश सिन्हा की रिपोर्ट
खगड़िया जिले के गोगरी अनुमंडल क्षेत्र में प्रशासनिक आदेश को ठेंगा दिखाते हुए दबंगों के द्वारा सरकारी जमीन पर भवन निर्माण किए जाने का मामला शासन-प्रशासन को मुंह तो चिढ़ाने लगा ही है, कई सवालों को भी जन्म देने लगा है। हद तो यह है कि दबंगई की सीमा लांघ चुके दारोगा जी अंचलाधिकारी के आदेश को भी ठेंगा दिखाने से बाज.नहीं रहे हैं। बात अलग है कि अंचलाधिकारी द्वारा निर्गत नोटिस के सम्मान में दिन के उजाले में निर्माण कार्य नहीं किया जाता है और रात्रि होते ही लाईट जलाकर निर्माण कार्य शुरु कर दिया जाता है। बताया जा रहा है कि गोगरी अंचल कार्यालय की पंजियों में दर्ज तौजी नम्बर 3339, खाता नम्बर 227 व खेसरा न 180 की दो कट्ठे गैर मजरुआ जमीन पर एक दबंग दारोगा द्वारा न केवल कब्जा कर लिया गया है बल्कि अवैध रूप से निर्माण कार्य भी कराया कराया जा रहा है। इस संदर्भ में स्थानीय लोगों के द्वारा आवाज बुलंद किए जाने के बाद गोगरी के अंचलाधिकारी द्वारा नोटिस तो जारी किया गया है। लेकिन उक्त जमीन पर निर्माण कार्य जारी है। दिन के उजाले में निर्माण कार्य रोक दिया जाता और अंधेरा होते ही निर्माण कार्य शुरु कर दिया जाता है। बताते चलें कि उक्त जमीन हरिजन प्राथमिक विद्यालय भारती नगर, मुश्किपुर के समीप है और स्कूल के नाम है। बहरहाल, यह देखना दिलचस्प होगा कि मामला जिलधिकारी जय सिंह के संज्ञान में आने के बाद क्या कार्रवाई होती है।

AdvertisementRelated image