जहानाबाद / अजित कुमार

AdvertisementRelated image

जहानाबाद –  बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा के रिजल्ट में धांधली का आरोप लगाकर जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने काको मोड़ के समीप शिक्षा मंत्री एवं बिहार बोर्ड अध्यक्ष का पुतला दहन किया. इस दौरान जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी जमकर की नारेबाजी. जन अधिकार पार्टी के छात्र अध्यक्ष विकाश यादव ने महागठबंधन सरकार पर छात्रों एवं बिहार के शिक्षा के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया है। दो दिन पूर्व प्रकाशित 12वीं के परीक्षा परिणाम ने नीतीश सरकार के शिक्षा विरोधी चेहरे को बेनकाब कर दिया है. नीतीश सरकार ने जितनी कड़ाई से परीक्षा का संचालन करवाया है. यदि पच्चीस प्रतिशत भी स्कूलों में तत्परता से पढ़ाई करवायी होती तो परीक्षा परिणाम ठीक उलट होती. सत्तर प्रतिशत से अधिक बच्चे पास होते. बिहार के विद्यार्थी देश और दुनिया में अपनी मेधा का डंका बजा रहे हैं और बिहार सरकार उन्हें शिक्षा का उचित अवसर नही देकर उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. जो बच्चे पास हुए हैं उनमे अधिकांश अपने निजी व्यवस्था से पढ़ाई कर पास हुए हैं. सरकारी स्कूलों की हालत क्या है ये मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री को नही मालूम है जहां सभी विषयों में शिक्षक नहीं है. परीक्षा की कॉपियां किस तरह से अयोग्य शिक्षकों द्वारा चेक कराई गयी है यह भी एक जांच का विषय है. इस दौरान छात्र जन अधिकार उपाध्यक्ष चुन्नू कुमार, युवा मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष मोनू कुशवाहा,निरंजन सिंह यादव सहित दर्जनों लोग मौजूद थे।

AdvertisementRelated image