खगड़िया/ राजेश सिन्हा
नगर निकाय चुनाव की उल्टी गिनती शुरु होते ही खगड़िया नगर परिषद तथा गोगरी नगर पंचायत का न केवल चुनावी पारा चढ़ने लगा है बल्कि विभिन्न वार्डों में चुनावी कार्यालय भी खोले जाने लगे हैं। धीरे_धीरे प्रचार का दौर भी जोर पकड़ने लगा है। बात अलग है कि चुनाव आयोग के द्वारा प्रत्याशियों के लिए खर्च की अधिकतम सीमा बीस हजार निर्धारित किए जाने के कारण कहीं भी अधिक ताम_झाम देखने को नहीं मिल रही है। सुबह से लेकर देर शाम तक विभिन्न वार्ड प्रत्याशियों को अपने समर्थकों के साथ मतदाताओं के घर व ठिकानों पर हाजिरी भी लगानी पड़ रही है। किनकी_ किनकी होगी जीत और किनके नसीब में लिखी है हार, यह तो चुनाव परिणाम के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा। लेकिन कई वार्डों की राजनीतिक गणित समझने में मतदाताओं को शायद ही दिक्कत महसूस हो रही है। कई ऐसे वार्ड हैं, जहां के मतदाताओं द्वारा निर्वतमान वार्ड पार्षदों पर ही भरोसा जताया जा रहा है। खगड़िया नगर परिषद के वार्ड नम्बर बीस पर अगर निगाह डाली जाय तो निर्वतमान वार्ड पार्षद विजय कुमार यादव द्वारा आज महात्मा गांधी पथ में चुनावी कार्यालय का आगाज किया गया। वार्ड के सैकड़ों प्रबुद्धजनों की उपस्थिति वार्ड की राजनीतिक गणित को लगभग स्पष्ट कर रही थी। आशीष यादव तथा गुड्डू यादव का कहना था कि निर्वतमान वार्ड पार्षद विजय कुमार यादव के द्वारा किये गये विकासात्मक कार्यों को भूला पाना वार्ड वासियों के लिए संभव नहीं है। संजय कुमार जैन, सोनू कुमार, फूलो कुमार, टुन्ना मिस्त्री, शिक्षक भूवनेश्वर प्रसाद आदि ने भी कमोवेश एक ही तरह की बातों को दुहराते हुए कहा कि वार्ड नम्बर बीस की राजनीतिक गणित पर सबकी नजर है। अन्य वार्डों में भी कुछ इसी तरह का नजारा दिख रहा है जबकि कुछ वार्ड में नये पहलवान भी चुनावी ताल ठोंकते नजर आ रहे हैं। हालांकि लगभग सभी जगह के मतदाता अभी भी खामोश रहकर प्रत्याशियों व उनके समर्थकों पर पैनी नजर बनाये हुए हैं।

AdvertisementRelated image